वर्ष 2017 से आभूषणों पर हॉलमार्क लगाना जरूरी – Hall Mark On Jewelry

 आभूषणों को खरीदने वालों
के लिए नया साल खुशखबरी लेकर आया है। 
भारतीय मानक ब्यूरो BIS ने 1 जनवरी 2017 से सोने के
सभी तरह के आभूषणों पर हॉलमार्क लगाना अनिवार्य कर दिया है। इस आदेश के बाद अब
देश के सभी ज्वैलर्स को
22, 18 और 14 कैरेट के आभूषणों में हॉलमार्क निशान लगवाना जरूरी होगा। 
BIS की ओर से जारी नए हॉलमार्किंग नियमों  में कहा गया कि अब
सोने की हॉलमार्किंग सिर्फ तीन कैटिगरी में होगी।


यानि 14, 18 और 22 कैरेट
के गहनों पर ही हॉलमार्क का निशान लगाया जाएगा। अब तक
9, 16, 17, 19, 20,
21, 23 कैरेट के गहनों पर भी हॉलमार्क लगता था।

दूसरे अहम बदलाव के तहत फिटनेस मार्क के साथ कैरेट संख्या भी दर्ज
होगी। जैसे  
22 कैरेट के सोने पर अब 22K916 लिखा जायगा ।

तीसरे बदलाव के तहत हॉलमार्किंग से गहने के मैन्युफैक्चरिंग वर्ष
को हटा दिया गया है।

बीआईएस की मानें तो तीनों बदलाव उपभोक्ताओं की सुविधा को ध्यान
में रखकर लिए गए हैं। इस फैसले का आभूणण विक्रेताओं ने भी स्वागत किया है।

कैरेट संख्या दर्ज होने से अब हर कोई आसानी से जान सकेगा कि गहना
कितने कैरेट का है। आमतौर पर कीमतों में बेंचमार्किंग न होने की वजह से कम
शुद्धता वाले सोने की पहचान करना कठिन होता है।

ऐसे में सरकार के इस कदम से कंज्यूमर्स को जहां सोने की शुद्धता
की गारंटी मिलेगी
, वहीं ज्वेलर्स के गोलमाल करने के रास्ते
बंद हो जाएंगे।


तो हो जाइये नए वर्ष में असली सोने के गहने खरीदने के लिए तैयार – 

Source DD News
Advance Digital Paper – www.adpaper.in & www.kashipurcity.com – न्यूज़, करियर , टेक्नोलोजी . #adigitalpaper, Baal Ki Khaal BKK News, Net Guru Online- NGO, UK News Live
शेयर करें

Leave a Reply